short moral stories in Hindi | द हीलिंग बॉय | 07

short moral stories in Hindi

एक समय की बात है, भारत के एक छोटे से गाँव में राजू नाम का एक युवा लड़का रहता था। राजू अपने शरारती स्वभाव के लिए जाना जाता था और अक्सर मुसीबत में पड़ जाता था। एक दिन जंगल में घूमते समय उसकी नजर एक जादुई चिराग पर पड़ी।

चिराग को रगड़ते ही राजू के मन में जिज्ञासा भर गई और वह आश्चर्यचकित रह गया जब उसके सामने एक जिन्न प्रकट हो गया। जिन्न ने कहा, “मैं तुम्हारी तीन इच्छाएँ पूरी करूँगा, लेकिन याद रखना, तुम्हारी इच्छाएँ न केवल तुम्हारे लिए बल्कि दूसरों के लिए भी ख़ुशी लाने वाली होनी चाहिए।”

जब राजू अपनी इच्छाओं के बारे में सोचने लगा तो उसकी आँखें उत्साह से चमक उठीं। उसने उन सभी चीज़ों के बारे में सोचा जो उसके पास हो सकती थीं, जैसे एक भव्य महल, सोने के ढेर और असीमित खिलौने। लेकिन फिर उसे दूसरों के लिए खुशी लाने के बारे में जिन्न के शब्द याद आए।

राजू ने जिन्न से पूछा, “क्या मैं लोगों को ठीक करने की शक्ति पाने की इच्छा कर सकता हूँ?” short moral stories in Hindi

जिन्न मुस्कुराया और राजू की इच्छा पूरी कर दी। उस क्षण से, राजू के पास बीमारों और घायलों को ठीक करने की अविश्वसनीय क्षमता थी। दूर-दूर से लोग उसकी मदद लेने आते थे और राजू को अपनी शक्ति का उपयोग करके उनके चेहरे पर मुस्कान लाने में अत्यधिक खुशी महसूस होती थी।

जैसे-जैसे समय बीतता गया, राजू की प्रसिद्धि बढ़ती गई और उसे “द हीलिंग बॉय” के नाम से जाना जाने लगा। हालाँकि, राजू ने देखा कि उसकी उपचार शक्ति कम हो रही थी। परेशान होकर उसने गांव के बुजुर्ग से सलाह मांगी। बुद्धिमान बुजुर्ग ने समझाया, “राजू, आपकी शक्ति आपके निस्वार्थ कार्यों से जुड़ी हुई है। जितना अधिक आप देंगे, आपकी शक्ति उतनी ही मजबूत होगी।” short moral stories in Hindi

बुजुर्ग के शब्दों की बुद्धिमत्ता को समझते हुए, राजू ने अपनी शेष शक्ति का उपयोग दूसरों को ठीक करने के तरीके सिखाने के लिए करने का निर्णय लिया। उन्होंने बच्चों का एक समूह इकट्ठा किया और उन्हें उपचार की कला सिखाई। साथ में, उन्होंने युवा चिकित्सकों की एक टीम बनाई और गाँवों में यात्रा की, अपना ज्ञान फैलाया और जरूरतमंदों को ठीक किया। short moral stories in Hindi

जैसे ही राजू और उनकी टीम ने अपना निस्वार्थ कार्य जारी रखा, कुछ जादुई घटित हुआ। प्रत्येक बच्चे के भीतर उपचार करने की शक्ति बढ़ी और उनकी पहुंच उनके सपनों से भी आगे बढ़ गई। उनकी दयालुता ने अनगिनत लोगों के जीवन को प्रभावित किया, जिससे दुनिया एक बेहतर जगह बन गई।

अपनी यात्रा के दौरान, राजू ने एक मूल्यवान सबक सीखा – सच्ची ख़ुशी दूसरों को खुश करने में है। जितना अधिक उसने अपना उपहार साझा किया, उतना ही अधिक उसे पूर्णता महसूस हुई। और उन्होंने महसूस किया कि किसी के पास सबसे बड़ी शक्ति अपने आस-पास के लोगों के लिए उपचार और खुशी लाने की शक्ति है।

उस दिन के बाद से, राजू और उनकी टीम ने अपना जीवन निस्वार्थ भाव से दूसरों की सेवा करने और जहां भी वे गए वहां आशा और खुशी लाने के लिए समर्पित कर दिया। उनकी कहानी आने वाली पीढ़ियों के लिए प्रेरणा बन गई, जिससे बच्चों को दया, करुणा और उनके दिलों में छिपी अविश्वसनीय शक्ति का महत्व सिखाया गया। short moral stories in Hindi

और इस तरह, राजू की कहानी, “द हीलिंग बॉय”, पूरे देश में फैल गई, और सभी को याद दिलाया कि सबसे सच्चा जादू दूसरों के प्रति प्रेम और सेवा के निस्वार्थ कार्यों में पाया जाता है।

1 thought on “short moral stories in Hindi | द हीलिंग बॉय | 07”

Leave a comment